BLOGGING

Bounce Rate Kya Hai Our Esko Kaise Kam Kare

Bounce Rate Kya Hai Our Esko Kaise Kam Kare
Written by 7joker

नमस्कार दोस्तों कैसे हैं आप सभी आज हम आपके सामने एक बिल्कुल नई जानकारी लेकर आए हैं जिसमें हम आज आपको बाउंस रेट के बारे में बताएंगे साथ ही साथ हम आपको यह भी बताएंगे कि आप बाउंस रेट को कम कैसे कर सकते हैं । दोस्तों अगर आप एक ब्लॉगर है या खुद की वेबसाइट चलाते हैं तो आज आपके लिए यह पूरी पोस्ट पढ़ना बहुत ज्यादा जरूरी है क्योंकि आज हम ब्लॉगिंग में आने वाले SRO के एक इंपॉर्टेंट फेक्टर के बारे मे बात करने जा रहे है जो बाउंस रेट कहलाता है ।

दोस्तों हम‌ आज के पोस्ट में यह चर्चा करेंगे कि बाउंस रेट क्या होता है और आप इससे बढ़िया ट्रैफिक कैसे प्राप्त कर सकते हैं तो आइए दोस्तों जानते हैं बहुत रेट क्या है ?

Bounce Rate

दोस्तों कई बार ऐसा होता है कि कोई विजिटर हमारे पेज पर आता है और हमारी वेबसाइट को ओपन करता है और नेटवर्क प्रॉब्लम की वजह से वह हमारे पेज को छोड़कर चला जाता है दोस्तों बाउंस रेट उन लोगों की परसेंटेज होती है जो हमारी वेबसाइट में केवल एक बार पेज को देखते हैं और उसके बाद में पेज को लीव करके चले जाते हैं दोस्तों अगर हम उदाहरण देकर समझाएं तो यह अगर किसी व्यक्ति का बाउंस रेट 55 परसेंट है तो इसका मतलब यह निकलता है कि उसकी वेबसाइट में 55 परसेंट लोग ऐसे आए थे जिन्होंने जिन्होंने सिर्फ एक बार पेज को ओपन किया और उसके बाद में चले भी गए ।

दोस्तों बाउंस रेट लगभग हर वेबसाइट में होता है क्योंकि कोई भी वेबसाइट ऐसी नहीं होती है कि जिस पर विजिटर आए और उस को छोड़कर ना जाए दोस्तों अगर हम एक अच्छे बाउंस रेट की बात करें तो यह केवल 10 परसेंट होता है इसका मतलब यह है कि अगर जिस वेबसाइट का बाउंस रेट 10 परसेंट से कम होता है उस वेबसाइट पर लाखों की संख्या में ट्रैफिक आता है ऐसे वेबसाइट बहुत कम होती हैं जिनका बाउंस रेट 10 परसेंट हो, दोस्तों जितनी भी वेबसाइट है उनका लगभग बाउंस रेट 40 परसेंट से 80 परसेंट के बीच में होता है यह बात आपको समझ में आ गई होगी कि किसी वेबसाइट का बाउंस रेट जितना कम होगा उस वेबसाइट पर ट्रैफिक उतना ही ज्यादा बढ़ेगा ।

Bounce Rate को कम कैसे करें ?

दोस्तों बहुत से लोग‌ पूछते हैं कि‌ बाउंस रेट को कम कैसे करें अगर यह सवाल आप गूगल से पूछेंगे तो उस पर हजारों तरीके खुलकर आ जाएंगे दोस्तों जितनी वेबसाइट होंगी वह अपने बाउंस रेट को कम करने के उतने ही तरीके बताएंगे । लेकिन दोस्तों इसमें से कुछ ही तरीके होते हैं जो वास्तव में काम करते हैं बाकी सारे तरीके काम नहीं करते हैं आज इस पोस्ट में हम आपके लिए कुछ चुनिंदा तरीके लेकर आएं है जिन्हें अगर आप फॉलो करें तो आप भी अपने बाउंस रेट को काफी हद तक कम कर सकते हैं ।

सही विजिटर को आकर्षित करें

बाउंस रेट बढ़ने की सबसे ज्यादा वजह यह होती है कि लोग सबसे ज्यादा ध्यान अपनी वेबसाइट को बढ़ाने में देते हैं लेकिन दोस्तों ऐसा आपको नहीं करना चाहिए अगर आप वेबसाइट में बेहतर ट्रैफिक चाहते हैं तो आपको अपना पूरा ध्यान विजिटर को आकर्षित करने में करना चाहिए । दोस्तों आपको यह ध्यान रखना चाहिए कि आपकी वेबसाइट जिस कैटेगरी से संबंधित है आपको उसी कैटेगरी के लोगों को अपनी वेबसाइट पर लाना है आप खुद ही सोचिए अगर आपकी वेबसाइट गेमिंग से संबंधित है तो उस पर कोई साइंस पढ़ने वाला बच्चा कभी नहीं आएगा । इसीलिए दोस्तों आपको यह ध्यान रखना चाहिए कि आपकी साइट पर वही लोग हैं जो आपकी वेबसाइट की कैटेगरी में इंटरेस्ट रखते हो ।

पेज के लोड टाइम को कम करें

दोस्तों पेज का लोड टाइम किसी भी वेबसाइट के ट्रैफिक को कम ज्यादा करने में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है इसके साथ-साथ अगर आप सर्च इंजन में अच्छी रैंकिंग पाना चाहते हैं तो आपको अपनी वेबसाइट के लोडिंग टाइम को कम करना चाहिए क्योंकि कोई भी विजिटर उस वेबसाइट पर ज्यादा देर नहीं रुकता है जिस वेबसाइट को लोड होने में बहुत ज्यादा समय लगता है अगर एक आंकड़े की बात करें तो विजिटर एक वेबसाइट पर मात्र 10 से 15 सेकंड तक ही रुकता है इतनी देर में अगर पेज लोड होता है तो वह वेबसाइट के आर्टिकल को पढ़ता नहीं तो आगे बढ़ जाता है ।

Quality कंटेंट ही प्रोवाइड करें

किसी वेबसाइट में कितना ट्रैफिक आएगा यह उस वेबसाइट में पोस्ट किए जाने वाले आर्टिकल की Quality पर निर्भर करता है अगर आप जो आर्टिकल पोस्ट कर रहे हैं उनकी Quality अच्छी है तो लोग आपके पोस्ट पर ज्यादा देर रुकेंगे और उनको पढ़ेंगे लेकिन लेकिन अगर आप कुछ ऐसा अपलोड कर रहे हैं जो पूरी तरह से बोरिंग है तो लोग आपके आर्टिकल को नहीं पड़ेंगे और आपका बॉउस रेट बढ़ता चला जाएगा ।

तो दोस्तों यह कुछ तरीके थे जिनको अगर आप अपना लें तो आप अपनी वेबसाइट का बाउंस रेट काफी हद तक कम कर सकते हैं , मै उम्मीद करता हूं आप हमारी जानकारी से संतुष्ट होंगे ऐसे ही और नई-नई जानकारी पाने के लिए आप हमारे साथ बने रहे ।

About the author

7joker

Leave a Comment